Home पाकिस्तान पाकिस्तान के मंत्री कश्मीर के युवा और उइगर मुस्लिमों पर बयान

पाकिस्तान के मंत्री कश्मीर के युवा और उइगर मुस्लिमों पर बयान

1
0


इस्लामाबाद
पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने पहले दुनियाभर के सामने पुलवामा हमले को इमरान खान सरकार की कामयाबी बता डाला। इसके बाद एक भारतीय न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने अप्रत्यक्ष रूप से यह भी चेतावनी दे डाली कि कश्मीर का युवा उग्रवाद की राह पर जरूर उतरेगा चाहे वह IAS-PCS ही क्यों न हो जाए। यही नहीं, उन्होंने चीन में उइगर मुस्लिमों की नर्क जैसी जिंदगी को भी इमरान सरकार की ओर से मूक स्वीकृति दे डाली।

‘आतंकी हमले की बात नहीं कर रहा था’
पाकिस्तान की संसद में फवाद ने कहा था कि पुलवामा की घटना इमरान खान के नेतृत्व में देश की कामयाबी है। भारतीय टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि उनकी बात को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया था। फवाद ने दावा किया कि उन्होंने 14 फरवरी को हुई घटना का जिक्र नहीं किया था। उन्होंने कहा कि उसके बाद जब भारत ने बालाकोट एयरस्ट्राइक की, उसके जवाब में पाकिस्तान की वायुसेना भारत की सीमा में दाखिल हुई। फवाद ने कहा कि उन्होंने इस कार्रवाई का जिक्र करते हुए पाकिस्तान की कामयाबी की बात कही थी।

चीन के उइगर मुस्लिमों पर चुप्पी
इसके बाद उनसे सवाल किया गया कि फ्रांस की घटनाओं के बाद जो पूरी दुनिया में माहौल बना है, उस पर इमरान खान ने कहा है कि इस्लामोफोबिया का माहौल बना है। इस पर फवाद ने कहा कि मुस्लिम हजरत मोहम्मद के अपमान को बर्दाश्त नहीं कर सकते हैं। इसके जवाब में उनसे चीन में उइगर मुस्लिमों के हालात पर सवाल किया गया तो उन्होंने इस पर सीधा जवाब नहीं दिया। उन्होंने पहले कहा कि ये दावे भारत का मीडिया कर रहा है। इसके बाद उन्होंने कहा कि चीन क्या, दुनिया के किसी भी कोने में रह रहे मुस्लिमों के हालात भारत से बेहतर हैं।


‘कश्मीर के युवा आजादी की लड़ाई लड़ेंगे’
कश्मीर के बच्चों को भड़काने के सवाल पर उन्होंने कहा कि कश्मीरी भारत में नहीं रहना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि इसीलिए वहां पाकिस्तान का झंडा लहराते हैं। इस पर उनसे कहा गया कि कश्मीर के युवा सिविल सर्विसेज में और सेना में भी शामिल होते हैं। इस पर फवाद ने कहा कि इसके बावजूद उन्हें आगे चलकर कश्मीर की आजादी की लड़ाई ही लड़नी है, बेहतर है कि उन्हें आजादी दी जाए।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here