Home पॉलिटिक्स मानहानि मामले में कपिल मिश्रा ने कोर्ट में AAP नेता सत्येंद्र जैन...

मानहानि मामले में कपिल मिश्रा ने कोर्ट में AAP नेता सत्येंद्र जैन से मांगी बिना शर्त माफी, बंद हुआ केस

1
0


हाइलाइट्स:

  • खुद के खिलाफ आपराधिक मानहानि के मामले में कपिल मिश्रा ने सत्येंद्र जैन से मांगी बिना शर्त माफी
  • मिश्रा के माफी मांगने और भविष्य में ऐसा न करने के बयान के बाद कोर्ट ने बंद किया मानहानि केस
  • 2017 में मिश्रा ने जैन पर सीएम केजरीवाल को 2 करोड़ रुपये की रिश्वत की रकम देने का आरोप लगाया था
  • मिश्रा के आरोपों के बाद सत्येंद्र जैन ने उनके खिलाफ आपराधिक मानहानि की कार्यवाही शुरू की थी

नई दिल्ली
दिल्ली की एक अदालत ने बीजेपी नेता कपिल मिश्रा के खिलाफ आपराधिक मानहानि के एक मामले को तब बंद कर दिया जब बीजेपी नेता ने शिकायतकर्ता सत्येंद्र जैन से बिना शर्त माफी मांग ली। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने 2017 में मिश्रा के खिलाफ आपराधिक मानहानि का केस दायर किया था। बीजेपी नेता ने जैन और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ अपमानजनक आरोप लगाए थे।

कपिल मिश्रा के बिना शर्त माफी मांगने के बाद अडिशनल चीफ मेट्रोपॉलिटन मैजिस्ट्रेट विशाल पाहुजा ने केस को बंद करने का आदेश दिया। कोर्ट ने कहा, ‘आरोपी (मिश्रा) की तरफ से कहा गया है कि वह कोर्ट में बिना शर्त माफी का बयान पेश करेंगे। शिकायतकर्ता (जैन) ने भी कहा है कि अगर आरोपी कोर्ट में अपना बयान देते हैं तो वह मौजूदा शिकायत को वापस ले लेंगे।’ कोर्ट में मिश्रा और जैन के बयान दर्ज होने के बाद मैजिस्ट्रेट ने केस को बंद कर दिया।

कोर्ट में कपिल मिश्रा ने क्या कहा
अपने माफीनामे में मिश्रा ने लिखा है, ‘मैं मौजूदा केस में आरोपी हूं। मैंने शिकायतकर्ता के खिलाफ जो भी आरोप लगाए थे वे राजनीति से प्रेरित और गलत थे। मैं शिकायतकर्ता से बिना शर्ता माफी मांगता हूं और भविष्य में यह दोबारा नहीं होगा। मैं अपने इस बयान को अपने ऑफिशल हैंडल्स के जरिए सोशल मीडिया पर भी पब्लिश करूंगा।’

किस आरोप के लिए मिश्रा ने मांगी माफी
कपिल मिश्रा ने 2017 में आरोप लगाया था कि सत्येंद्र जैन ने अरविंद केजरीवाल को 2 करोड़ रुपये रिश्वत की रकम दी थी। बीजेपी नेता ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में ये आरोप लगाए थे। उन्होंने यह भी दावा किया था कि जैन ने केजरीवाल के एक रिश्तेदार के लिए 50 करोड़ रुपये मूल्य के एक जमीन सौदे को भी कराया था। इतना ही नहीं, मिश्रा ने तब सोशल मीडिया पर दावा किया था कि बस कुछ ही दिनों में जैन जेल के भीतर होंगे। उनके बयानों को लेकर जैन ने उनके खिलाफ आपराधिक मानहानि की कार्यवाही शुरू की थी।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कोर्ट में दिए कपिल मिश्रा के माफीनामे को ट्वीट कर कहा है कि उनके झूठे आरोपों से उन्हें और उनके परिवार को काफी दुख हुआ था।

आपराधिक मानहानि के मामले में दोषी होने पर अधिकतम 2 साल तक जेल की सजा हो सकती है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here